Type Here to Get Search Results !

महंत के मोबाइल से मिली पांच दिन की वीडियो,फुटेज, एप से छिपा रखा था फोल्डर

0

 

महंत की गिरफ्तारी में जुटी गाजियाबाद पुलिस 




मुरादनगर। गंगनहर घाट पर महिलाओं के कपड़े बदलने के कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे के मामले में पुलिस जांच में कुछ नए तथ्य सामने आए हैं। पुलिस को महंत के मोबाइल से पांच दिन का सीसीटीवी फुटेज मिला है। साथ ही सीसीटीवी के डीवीआर से महिलाओं के कपड़े बदलते समय की क्लिप भी मिली हैं। महंत ने मोबाइल में हरिद्वार व छोटा हरिद्वार के नाम से दो फोल्डर बना रखे थे और सीसीटीवी एप छिपा रखा था। एक्सपर्ट ने जब प्ले स्टोर से एप डाउनलोड करने की कोशिश की तो हाइड एप का पता चला। फरार चल रहे महंत मुकेश गोस्वामी की तलाश में पुलिस की दो टीम लगी हैं। थाना क्षेत्र के गांव निवासी एक महिला 21 मई को अपनी बेटी के साथ गंगनहर घाट पर स्नान करने के लिए आई थी। स्नान के बाद महिला घाट पर बने चेंजिंग रूम में कपड़े बदलने चली गई, कपड़े बदलते समय महिला की नजर ऊपर लगे सीसीटीवी कैमरे पर पड़ी। पुलिस ने शिकायत पर सबसे पहले महंत का मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया था। इसके बाद महंत मुकेश गोस्वामी निवासी डिफेंस कॉलोनी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद महंत फरार हो गया। शुक्रवार को सिंचाई विभाग की टीम ने गंगनहर घाट से अतिक्रमण हटाया था। एसीपी नरेश कुमार ने बताया कि पुलिस की दो टीम महंत मुकेश गोस्वामी की तलाश में लगी है। गाजियाबाद, दिल्ली, बागपत, हरिद्वार, मुजफ्फरनगर, प्रयागराज में महंत की तलाश में दबिश दी जा रही है। जल्द ही महंत को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
घाट पर लगे हैं 25 सीसीटीवी कैमरे
एसीपी ने बताया कि गंगनहर घाट पर जगह जगह 25 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। पुलिस मामले में साक्ष्य एकत्र कर रही है। महंत के परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है। महिला के बयान दर्ज किए गए हैं। घाट पर पीएसी के गोताखोर तैनात हैं। वहीं, शनिवार को घाट पर काफी संख्या में लोग नहाने के लिए पहुंचे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad