Type Here to Get Search Results !

जघन्य हत्याकांड: शामली के इतिहास में पहली बार किसी कातिल को फांसी हुई

0


देश में खूब चर्चा में रहा था अजय पाठक हत्याकांड



त्तर प्रदेश के शामली जनपद में पहली बार किसी को फांसी की सजा सुनाई गई है। दरअसल, प्रसिद्ध भजन गायक अजय पाठक हत्याकांड में अदालत ने बुधवार को बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट के फैसले से पीड़ित परिवार में खुशी का माहौल है। वहीं, अदालत का फैसला आने के बाद पीड़ित परिजनों की आंखों में खुशी के आंसू थे और उन्होंने कहा कि आखिर इंसाफ मिल गया। परिजनों ने बताया कि साढ़े चार साल में इंसाफ मिला है। 

ये था मामला
30 दिसंबर 2019 की रात शामली के थाना आदर्श मंडी की पंजाबी कॉलोनी में रहने वाले प्रसिद्ध भजन गायक अजय पाठक, उनकी पत्नी स्नेहा लता व दोनों बच्चों को हिमांशु सैनी ने तलवार और खंजर से हमला कर मौत के घाट उतार दिया था। हिमांशु सैनी ने उस समय इस वारदात को अंजाम दिया था, जब पूरा परिवार घर में सोया हुआ था।

देश में खूब चर्चा में रहा था अजय पाठक हत्याकांड
शामली का यह सामूहिक हत्याकांड पूरे देश में खूब चर्चा में रहा था। एक शिष्य ने ही अपने गुरु और उनके परिवार को एक झटके में खत्म कर दिया था। इस जघन्य हत्याकांड के बारे में जिसने भी सुना था, उसकी रूह कांप गई थी। इस घटना के बारे में सुनकर हर किसी ने हत्यारोपी हिमांशु सैनी को कोसा था।

आखिर पीड़ित परिवार को मिला इंसाफ
बहुचर्चित जघन्य हत्याकांड में दोषी करार दिए शिष्य हिमांशु सैनी को साढ़े चार साल बाद कुकर्मों की सजा सुनाई गई। न्यायाधीश ने दोषी को फांसी की सजा सुनाई है। मामला जनपद सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार की कोर्ट में चल रहा था। 

फांसी की सजा के बाद यह बोले मृतक अजय के भाई हरिओम पाठक
मैं न्यायायलय और न्यायाधीश का आभारी हूं। जिन्होंने सत्य को देखा और जघन्य चौहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले को मौत की सजा सुनाई गई। सभी का शुक्रगुजार हूं। पहले से ही हमें न्यायालय पर विश्वास था। सच की जीत हुई है। 

पुलिस ने ऐसा किया था यह खुलासा
बेटे का शव मिलने के बाद शामली के तत्कालीन एसपी विनीत जायसवाल ने घटना का खुलासा करते हुए बताया था कि हत्यारे हिमांशु सैनी पर काफी कर्ज था। कर्ज उतारने के लिए उसे रुपयों की जरूरत थी। हत्यारा अपने गुरु अजय पाठक के घर में ठाट-बाट देखता था। जिस पर उसने अपने गुरु के घर में लूट की योजना बनाई और इस दौरान परिवार के चारों लोगों हत्या कर जेवरात और नगदी लूट ली थी। हत्यारे को रिमांड पर लेने के बाद उसकी निशानदेही पर पुलिस ने दिल्ली के बुराड़ी क्षेत्र के संत नगर स्थित फ्लैट से 22 लाख के जेवर, दो लाख की नगदी, तीन कीमती घड़ियां, गिटार भी बरामद किया था। पुलिस ने खुलासा किया था कि हिमांशु ने दिल्ली के बुराडी के संतनगर में किराए पर फ्लैट लिए हुए था, जहां से नगदी ओर जेवरात बरामद किए गए थे।

ढ़िए क्या बोले पीड़ित परिजन?

ढ़िए क्या बोले पीड़ित परिजन?

ढ़िए क्या बोले पीड़ित परिजन?

ढ़िए क्या बोले पीड़ित परिजन?

ढ़िए क्या बोले पीड़ित परिजन?

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad