Type Here to Get Search Results !

आजमगढ़ किसी के बाप की हिम्मत नहीं कि सीएए को हटा दे

0

 


विपक्षियों पर गरजे पीएम मोदी






चुनावी जनसभा को संबोधित करने निजामाबाद के गंधुवई पहुंचे पीएम मोदी ने भोजपुरी से जनता का अभिवादन कर अपने संबोधन की शुरूआत किया। उन्होंने कहा कि सब भैया बहिनी के पांव लगत हई। उन्होंने कहा कि दो दिन पूर्व मैं वाराणसी में था। वहां जो माहौल बना, जिस तरह से काशीवासियों ने लोकतंत्र का उत्सव मनाया। वैसा कभी पूर्व में नहीं दिखा।
उन्होंने कहा कि देश की एकता, अखंडता व संविधान की रक्षा के लिए सीएए लागू किया जाना जरूरी था, जिसे हमने किया और किसी के बाप की हिम्मत नहीं है कि सीएए को हटा दे। सपा-कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि शहजादों ने अपनी दुकान चलाने के लिए आजमगढ़, प्रदेश व देश का विकास नहीं होने दिया। 

उन्होंने कहा कि आज लोकतंत्र का उत्सव मनाया जा रहा है। हिंदुस्तान के हर कोने में कन्याकुमारी से कश्मीर तक और अटक से कटक तक सब ओर इस उत्सव की उमंग है। यही उत्सव लोकतंत्र की वह ताकत है जिस पर दुनिया का ध्यान गया। पहली बार है कि दुनिया के अखबारों में पहले पेज पर भारत के लोकतंत्र के उत्सव की खबरे छाई हुई है।
आपका प्रेम और आपका आशीर्वाद, आपका स्नेह दुनिया को अचरज कर रहा है। दुनिया देख रही है कि भारत के लोगों को मोदी की गारंटी पर कितना भरोसा है। इसलिए साथियों मोदी की गारंटी का मतलब क्या होता है, इसका ताजा उदाहरण आज का कानून है।  
आपने देखा होगा कानून के तहत शरणार्थियों को भारत की नागरिकता देने का काम शुरू हो गया है। काफी संख्या में हिन्दू, जैन, पारसी जो शरणार्थी बन लंबे अरसे से हमारे देश में रह रहे हैं। यह वे लोग हैं, जो धर्म के नाम पर हुए भारत के बंटवारे के शिकार हुए हैं। सबसे बड़ी बात तो यह है कि यहां महात्मा गांधी का नाम लेकर लोग सत्ता की सीढ़ियों पर तो चढ़ जाते हैं लेकिन महात्मा गांधी की बातों को याद नहीं रखते। 

बोले- धर्म और जाति के नाम पर लड़ाती हैं विपक्षी पार्टियां

70 वर्षों में हजारों परिवार प्रताड़ना और अपनी बेटियों की इज्जत बचाने के लिए अपना धर्म, अपनी संस्कृति, अपनी परंपरा बचाने के लिए मजबूर होकर भारत में शरण लिए। लेकिन कांग्रेस ने उनकी कभी सुधि नहीं लिया। क्योंकि ये लोग कांग्रेस के वोट बैंक नहीं थे। इन लोगों में ज्यादातर दलित थे, पिछड़े समाज से थे, इसलिए इन पर जुल्म हुआ। सपा और कांग्रेस जैसे दलों ने यूपी सहित पूरे देश को दंगों की आग में झोंकने का काम किया।
पीएम ने कहा कि हिंदू-मुस्लिम को लड़ा कर व सेकुलरिज्म का चोला ओढ़ कर सपा व कांग्रेस ने सिर्फ अपनी दुकान चलाई। इनका यह नकाब मोदी ने उखाड़ फेका है। पश्चिम बंगाल से लेकर दिल्ली, पंजाब तक हजारों शरणार्थी परिवार मां भारती की गोद में रह रहे हैं। सीएएस लागू होने के बाद अब ये सभी सम्मान के साथ रहेंगे। उनके पास भी एक पहचान होगी।
 
उन्होंने कहा कि 10 साल पूर्व देश में कहीं भी आतंकवादी घटना होने पर आजमगढ़ का नाम जुड़ जाता था। तब सपा के शहजादे आतंकवादियों का सम्मान करते थे। स्लीपर सेल को राजनीतिक कर दिया जाता था। इसी रवैया के कारण देश भर में आतंकवाद फला-फूला। माताओं ने अपने बच्चों को बर्बाद होते देखा। इन लोगों का आज भी ऐसा ही रवैया सपा कांग्रेस यह तुष्टीकरण और परिवारवाद का सामान भेजते हैं। अब ये लोग तुष्टिकरण का ट्रिपल डोज लेकर आए हैं।

पिछड़े, दलित व आदिवासी का आरक्षण छीनकर अपने वोट बैंक को देना चाहते हैं। इतना ही नहीं आप की संपत्ति का आधा हिस्सा छीन कर उसे भी अपने वोट बैंक को देना चाहते हैं। देश के बजट को भी बांटना चाहते हैं। समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेता राम मंदिर को लेकर आए दिन घटिया बातें कर रहे हैं। कांग्रेस के शहजादे ने तो राम मंदिर को गालियां देने का मिशन ही चला रखा है। सिर्फ वोट बैंक को खुश करने के लिए यह लोग हमारी आस्था पर चोट कर रहे हैं।

मोदी आपकी जीवन को बेहतर बनाने की कोशिश में लगा है। फ्री राशन दे रहा है, स्वास्थ्य सेवाएं, सस्ता सिलेंडर, हर घर नल जैसी सुविधा उपलब्ध करा रहा है। इतना ही नहीं अब मोदी की एक और गारंटी है वह यह है कि हर परिवार के 70 साल से अधिक आयु के बुजुर्गो के इलाज की गारंटी अब हमारी होगी। पीएम सूर्य घर योजना के माध्यम से बिजली बिल को जीरो करने की गारंटी भी शुरू हो चुकी है।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad