Type Here to Get Search Results !

आजमगढ़ की एक और बेटी चढ़ी दहेज की भेंट

0

 दहेज लोभियों ने मार पीट कर घर से निकाला


आजमगढ़। सिधारी थाना क्षेत्र के मुंडा की रहने वाली युवती का विवाह गाजीपुर जिले में हुआ था। ससुराल वाले दहेज में स्कार्पियो की मांग कर रहे थे। यह मांग पूरी न होने पर ससुराल वालों ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। विवाहिता ने सिधारी थाने में पति समेत परिवार के पांच लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दिया। पुलिस तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गई है।पुलिस को दी तहरीर में पीड़िता दिव्यांशी पांडेय ने बयाया कि उसका विवाह 19 नवंबर 2021 को गाजीपुर जिले के बहरियाबाद थाना अंतर्गत उकरांव गांव निवासी रवि पांडेय के साथ हुआ था। शादी में पिता ने यथा संभव दान दहेज दिया था। शादी के वक्त ही ससुरल वाले स्कार्पियों की मांग करने लगे।
शादी के वक्त मौजूद वरिष्ठजनों के हस्तक्षेप पर किसी तरह विवाह संपन्न हुआ। इसके बाद वह विदा होकर ससुराल पहुंची तो वहां पति रवि पांडेय, ससुर सूर्यभान पांडेय, सास सुशीला देवी, ननद नीतू पांडेय व देवर कुलदीप उर्फ किशन पांडेय ने कहा कि यदि दहेज में स्कार्पियो नहीं मिलने पर प्रताड़ित करने लगे और मारपीट कर घर से द्यभगा देने की धमकी दिया। पीड़िता ने ससुराल वालों की हरकत की जानकारी मायके वालों को दी तो 14 मार्च 2022 को उसके पिता अखिलेश पांडेय बेटी के ससुराल आए। पिता से कहासुनी तक हो गई और फिर ससुराल वालों ने उसका सारे जेवरात व कपड़े आदि छीन लिए और घर से बाहर भगा दिया। इसके बाद से ही वह अपने पिता के साथ मायके चली आयी और तब से मायके में ही रह रही है। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच की कवायद में जुट गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad