Type Here to Get Search Results !

तुम्हारी औकात है अंदर जाने की , दफली नही बजाना है यहां?

0

 निर्दल प्रत्याशी छेद्दू को सीओ ने धक्का देकर बाहर भगाया


कौशाम्बी संसदीय सीट से बृहस्पतिवार को नामांकन पर्चा दाखिल करने पहुंचे निर्दल प्रत्याशी छेद्दू को सीओ सिटी के गुस्से का शिकार होना पड़ा। लौटते समय उन्होंने नगड़िया बजानी शुरू की तो सीओ ने परिसर से बाहर कर दिया। मामले का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। सिराथू तहसील के तैबापुर निवासी छेद्दू साइकिल से फेरी लगाकर बर्तन बेचने का काम करते हैं। उनकी क्षेत्र में एक अलग पहचान है। वह पिछले 24 साल से हो रहे प्रत्येक चुनाव में उम्मीदवारी कर अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। छेददू के चुनाव लड़ने व प्रचार करने का तरीका बेहद अनोखा है। उनका प्रचार देखने के लिए लोगों का मजमा लगता है। छेददू के मुताबिक बृहस्पतिवार को उन्होंने 12 वें चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया है। अपनी 90 वर्षीय मां धनपतिया, पत्नी उर्मिला और भाई व उसकी पत्नी समेत दस प्रस्तावकों के साथ नामांकन दाखिल करने पहुंचे छेद्दू ने सुरक्षा कारणों से गेट पर ही अपने गले में लटकी नेम प्लेट की तख्ती व ढपली को रख दिया।
इसके बाद कलक्ट्रेट पहुंचकर जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष अपनी उम्मीदवारी का पर्चा दाखिल किया। नामांकन दाखिल कर वापस लौटने पर लोगों को आकृष्ट करने के लिए ढपली बजाने लगे। इस पर सुरक्षा ड्यूटी में तैनात सीओ सिटी सत्येंद्र तिवारी गुस्से में आ गए। छेददू के करीब पहुंचे और उन्हें धक्का देकर बाहर कर दिया।
मामले में सीओ सिटी का कहना है कि नामांकन स्थल के 100 मीटर दायरे में कई बार मना करने के बाद निर्दल प्रत्याशी ने नारेबाजी करते हुए डुगडुगी बजाना नहीं बंद किया। आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने पर उन्हें परिसर से बाहर निकाला गया है।





Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad