Type Here to Get Search Results !

अमरोहा सिपाही ने सरकारी रायफल से खुद को उड़ाया ,मौत

0

 गोली की आवाज सुन मच गई अफरा तफरी 


अमरोहा जिले के जोया गांव का रहने वाला सिपाही तैय्यब अली वर्ष 2015 बैच का सिपाही था। जो पिछले छह सालों से न्यायालय सुरक्षा में तैनात चल रहा था। बताया कि लोकसभा चुनाव में तैय्यब अली की संभल में ड्यूटी लगी। जो जोया के नजदीक होने के कारण अपने घर चला गया था। जहां से वापस लौटते समय शुक्रवार को अमरोहा रेलवे स्टेशन पर तैय्यब अली ने सार्विस राइफल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। 
बताया कि तैय्यब अली ने कोतवाली के व्हाट्सएप ग्रुप में आत्महत्या करने का मैसेज भी भेजा था। उधर, आत्महत्या के पीछे घरेलू विवाद बताया जा रहा है। सिपाही की मौत से पुलिस महकमे में शोक छा गया। 
उधर, एएसपी नरेंद्र प्रताप सिंह ने अमरोहा पुलिस से वार्ता कर पूरी घटना की जानकारी हासिल की। इस मामले में एएसपी नरेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि सिपाही तैय्यब अली लोकसभा चुनाव ड्यूटी में संभल गया था। अमरोहा में उसने गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पिता इंस्पेक्टर पद से सेवानिवृत्त
बताया गया कि तैय्यब अली के पिता भी यूपी पुलिस में इंस्पेक्टर पद पर तैनात थे। जो कुछ समय पहले ही सेवानिवृत्त होकर घर आ गये थे।
मैं आत्महत्या कर रहा हूं, मैसेज देख चौंक गए सिपाही
मैं परेशान हूं और आत्महत्या कर रहा हूं। व्हाट्सएप ग्रुप में सिपाही तैय्यब अली का मैसेज देखकर पुलिसकर्मी चौंक गए। जिसके बाद कई पुलिसकर्मियों ने तैय्यब अली को फोन कर परेशानी का कारण पूछने की कोशिश, लेकिन जब तक सिपाही तैय्यब अली खुद को गोली मार चुका था।
मरने से पहले व्हाट्सएप स्टेट्स पर लिखा...
तैयब ने मरने से पहले अपने व्हाट्सएप स्टेट्स पर लिखा कि 'जो मैं करने जा रहा हूं, उसके लिए माफ करना। उसे मेरी बुजदिली मत समझना। बस इसके अलावा कोई रास्ता नहीं है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad