Type Here to Get Search Results !

कारोबारी नदीम की हत्या कर कानपुर हाईवे के किनारे कुएं में फेंका

0


बोली दो साल पहले पति को खोया,अब बेटे की भी हो गई हत्या


उन्नाव में धारदार हथियार से हत्या कर कुएं में फेंके गए रेडीमेड कपड़ा कारोबारी नदीम का शव देखकर मां गश खाकर गिर पड़ीं। रोते हुए कहा कि दो साल पहले पति को खोया अब इकलौता बेटा भी छिन गया। उन्होंने बेटे की किसी से कोई रंजिश न होने की बात कही। शव शाम को घर लाया गया और रात करीब साढ़े नौ बजे दफनाया गया। नदीम की शादी सात साल पहले जीनत फातिमा से हुई थी। दोनों के कोई संतान नहीं थी। पत्नी एक सप्ताह से मायके में थी। पिता नईम की दो साल पहले मौत हो चुकी है। एक विवाहित बहन है। इधर, इकलौते बेटे नदीम मौत की सूचना घर पहुंची तो मां आरिफा जार-जार रोने लगीं। इसके बाद भाई के साथ घटनास्थल पहुंचीं और जैसे ही शव देखा तो बेसुध हो गईं।
वही जिस तरह से युवक कानपुर से अजगैन तक आया उससे स्पष्ट है कि किसी करीबी ने भरोसे का फायदा उठाया। वहीं चर्चा है कि सुनियोजित तरीके से नदीम को घटनास्थल पर बुलाया गया और हत्या के बाद शव कुएं में फेंक दिया गया।नदीम का पक्ष बोला- भाजपा समर्थक था
मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल व लोकेशन को आधार बना पुलिस ने जांच शुरू की है। आशंका बिचपरी गांव के किसी नजदीकी के बुलाने की भी है। पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे नदीम पक्ष के लोगों को यह कहते भी सुना गया कि वह भाजपा समर्थक था, इसको लेकर भी उसकी हत्या की जा सकती है।
बुलडोजर से निकलवाया गया शव
ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने बुलडोजर की मदद से शव को बाहर निकलवाया। उसकी गर्दन व कमर के पास चाकू के गोदने के कई निशान मिले। सीओ संतोष सिंह ने मौके पर पहुंचकर जांच की। फील्ड यूनिट टीम ने भी मौके पर पहुंचकर साक्ष्य संकलन किया। एएसपी ने बताया कि राजफाश के लिए दो टीमें गठित की गई हैं। सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है। हत्या कर कुएं में फेंका था शव
कानपुर निवासी युवक की हत्या करने के बाद शव 30 किलोमीटर दूर अजगैन कोतवाली क्षेत्र में लखनऊ-कानपुर हाईवे के किनारे कुएं में फेंक दिया गया। बुधवार सुबह लोगों ने कुएं के पास खून और बाइक पड़ी देखी तो पुलिस को जानकारी दी।
परिजनों ने फोन मिलाया, लेकिन बात नहीं हुई
कानपुर के अनवरगंज कोतवाली क्षेत्र के दलेलपुरवा निवासी नदीम (28) की अनवरगंज में कपड़ों की दुकान है। मंगलवार शाम वह घर से किसी से मिलने की बात कहकर निकाले थे। रात तक नहीं लौटने पर परिजनों ने फोन मिलाया, लेकिन बात नहीं हो सकी।
गर्दन पर धारदार हथियार से वार करने के निशान
बुधवार सुबह कानपुर से करीब 30 किलोमीटर दूर दरबारी खेड़ा गांव के बाहर हाईवे से सटे एक कुएं में उनका शव उतराता मिला। गर्दन पर धारदार हथियार से वार करने के निशान मिले। बाइक के रजिस्ट्रेशन नंबर से उनके नाम और पते की जानकारी हुई।
मामा बोले- नदीम की किसी से दुश्मनी नहीं थी
मौके पर एसपी दक्षिणी प्रेमचंद ने डॉग स्क्वाड और फील्ड यूनिट के साथ पहुंचकर जांच की। कोतवाली पहुंचे मृतक के मामा ताहिर हुसैन ने बताया कि नदीम की किसी से दुश्मनी नहीं थी। उसने किसी से मिलने जाने की बात बताई थी। मामा ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है।
एसओजी और सर्विलांस भी खुलासे में लगी
कोतवाल अवनीश सिंह ने बताया कि हत्या क्यों, कैसे और कब की गई, इसकी जांच की जा रही है। मोबाइल सर्विलांस पर लगाया गया है। मृतक के मामा ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। एसओजी और सर्विलांस भी खुलासे में लगाई गई है।
 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Top Post Ad

Below Post Ad